Under Smart City, a center will be built in Bareilly from 158 crores, preparations to make it in Arvan Haat, tender process started | स्मार्ट सिटी के तहत बरेली में 158 करोड़ से बनाया जाएगा सेंटर, अर्वन हाट में इसे बनाने की तैयारी, टेंडर प्रक्रिया शुरू

0
0


बरेलीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

स्मार्ट सिटी बरेली में हैंडीक्राफ्ट का एक हब खुलने जा रहा है। इस हब को अर्वन हाट में बनाने की योजना तैयार की गई है। यह बरेली मंडल पूरे हैंडीक्राफ्ट का पहला हब होगा। जहां हस्तशिल्पियों की सभी चीजें आसानी से मिल जाएंगी। अधिकारियों का कहना है कि स्मार्ट सिटी परियोजनाओं के तहत ही इस सेंटर को तैयार किया जाएगा। इसके लिए टेंडर प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है। बताया जा रहा है कि इसमें करीब 158 करोड़ रुपये का खर्च होगा। आगामी 25-26 अगस्त को इस प्रोजेक्ट का उद्घाटन किया जाएगा।

हुनर निखारने के साथ ही बाजार भी होगा
नगर नगम के अधिकारियों की माने तो हैंडीक्राफ्ट सेंटर में हस्तशिल्पियों के हुनर में भी निखार आएगा। स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत उसका विस्तार किया जा रहा है। इस सेंटर में हस्तशिल्पियों को अपना हुनर निखारने, उत्पादों की प्रदर्शनी करने के साथ ही साथ एक अच्छा बाजार भी उपलब्ध कराया जाएगा। जहां वह अपनी बनाई हुई चीजों को आसानी से बेच सकते है। जिससे उन्हें अच्छी कमाई भी होगी।

158 करोड़ के प्रोजेक्ट को बांटा जाएगा दो हिस्सों में
अर्वन हाट में इस समय जगह कम है। मगर अब इसमें हैंडीक्राफ्ट सेंटर खोलने के लिए इसे बढ़ाया जाएगा। स्मार्ट सिटी बोर्ड आफ डायरेक्टर्स ने बीते दिनों इस प्रोजेक्ट की टेंडर प्रक्रिया पूरी करने के लिए दिशा निर्देश दिए थे। बताया जा रहा है कि 158 करोड़ रुपये वाले इस प्रोजेक्ट को दो हिस्सों में बांटा जाएगा। पहले 111 करोड़ बरेली हाट के लिए दिए जाएंगे। जिसमें वहां दो बिल्डिंग में व्यावसायिक क्षेत्र तैयार किया जाएगा। उसके पीछे वाले भाग में हैंडीक्राफ्ट प्रमोशन सेंटर बनाया जाएगा, जिसके लिए 47 करोड़ रुपये बजट रखा गया है।

जल्द ही लांच होगा प्रोजेक्ट
इस बारे में स्मार्ट सिटी के वरिष्ठ माहप्रबंधक बीके सिंह का कहना है कि इस हब की टेंडर प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। जैसे ही टेंडर प्रक्रिया पूरी होगी। इस प्रोजेक्ट को लांच कर दिया जाएगा। हालांकि अभी इसे पूरा होने में खासा समय लग सकता है। मगर इसके बाद लोगों को अपना हुनर दिखाने के लिए इधर-उधर भटकना नहीं होगा।

खबरें और भी हैं…



Source link