Smartphone sale on the top in India Shipment at Record 17.3 Crore Units | भारत में स्मार्टफोन की रिकॉर्ड तोड़ बिक्री, 17.3 करोड़ यूनिट की बिक्री के साथ छुआ नया शिखर

0
0


Photo:PIXABAY

भारत में स्मार्टफोन की रिकॉर्ड तोड़ बिक्री, 17.3 करोड़ यूनिट की बिक्री के साथ छुआ नया शिखर

नई दिल्ली। भारत का स्मार्टफोन बाजार साल 2021 में 14 फीसदी (वार्षिक आधार पर) वृद्धि के साथ 17.3 करोड़ यूनिट की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचने के लिए तैयार है। शुक्रवार को एक नई रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई। काउंटरप्वाइंट रिसर्च के इंडिया हैंडसेट तिमाही आउटलुक के अनुसार, 2021 की दूसरी छमाही में 10 करोड़ से अधिक स्मार्टफोन शिपमेंट (बिक्री) होगी और 5जी डिवाइस कुल बाजार का 19 प्रतिशत हिस्सा रहेंगे।

शोध विश्लेषक अंकित मल्होत्रा ने कहा, “बाजार पिछले पांच वर्षों में 2019 में 15.8 करोड़ यूनिट तक पहुंचने के लिए एक स्थिर विकास वक्र का अनुभव कर रहा है। कोविड-19 ने बाजार को 2020 में केवल 4 प्रतिशत की मामूली गिरावट का अनुभव करते हुए देखा, एक अधिक महत्वपूर्ण भूमिका में स्मार्टफोन के उभरने के साथ-साथ इसके लचीलेपन का भी प्रदर्शन देखा गया।”

बाजार को आगे बढ़ाने वाला सबसे बड़ा कारक सितंबर में रिलायंस जियो के कम लागत वाले एंड्रॉएड फोन जियोफोन नेक्स्ट का लॉन्च हो सकता है, जो फीचर फोन यूजर्स को स्मार्टफोन में स्थानांतरित करने में सक्षम होगा। देश में 32 करोड़ फीचर फोन यूजर्स का काफी स्थापित आधार है।

मल्होत्रा ने आगे कहा, “जियोफोन नेक्स्ट फोन की कीमत 75 डॉलर से कम होने की उम्मीद है, एक ऐसा मूल्य बिंदु, जिसने पिछले दो वर्षों में बड़ी गतिविधि नहीं देखी है। अगर यह उम्मीद के मुताबिक काम करता है, तो हम भारतीय बाजार को अति-विकास की अवधि में प्रवेश करते हुए देख सकते हैं।”

2020 में बाजार में 5जी स्मार्टफोन की हिस्सेदारी 3 फीसदी से भी कम थी। लेकिन 2021 में, 5जी डिवाइस का बाजार आठ गुना बढ़कर 3.2 करोड़ यूनिट तक पहुंच जाएगा और यह समग्र स्मार्टफोन बाजार का 19 प्रतिशत हिस्सा बन जाएगा।

रिपोर्ट में कहा गया है, “अगले पांच वर्षों के लिए भारत के लिए हमारा ²ष्टिकोण सकारात्मक बना हुआ है, इसकी 1.39 अरब (और आगे बढ़ रही है) आबादी को ध्यान में रखते हुए, फीचर फोन से स्मार्टफोन में यूजर्स के अपग्रेड और भविष्य में नए उपयोग के मामलों के उदय को देखते हुए अगले कुछ वर्षों में बाजार 20 करोड़ का आंकड़ा पार करने के लिए तैयार है।”

.



Source link