shravani mela update: Sawan ki akhiri somwari ab tak lalkhon logon ne kia babadham ke oline darshan : सावन की आखिरी सोमवारी लाखों श्रद्धालुओं ने बाबा बैद्यनाथ के किए ऑनलाइन दर्शन

0
0


रवि सिन्हा, देवघर
श्रावणी मेले की चौथी और आखिरी सोमवारी पर देश-विदेश के लाखों श्रद्धालुओं ने बाबा बैद्यनाथ का ऑनलाइन दर्शन किया। कोरोना संक्रमण के कारण इस साल भी राजकीय श्रावणी मेला स्थगित कर दिया गया। हालांकि, श्रद्धालुओं की आस्था और सुविधा को देखते हुए स्थानीय प्रशासन ने सुबह होने वाली बाबा बैद्यनाथ की पूजा-अर्चना को तड़के 4:45 से 5:30 बजे तक लाइव दिखाने की व्यवस्था की है।

कोरोना संकट के मद्देनजर ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था
इसके साथ ही शाम में होने वाली श्रृंगार पूजा को भी 7:30 से 8:15 बजे तक देखने की व्यवस्था की गई। अब तक लाखों श्रद्धालुओं ने विभिन्न ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के माध्यम से बाबा बैद्यनाथ के दर्शन किए हैं। सोमवारी को लेकर उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने सोमवार को तड़के सुबह बाबा बैद्यनाथ मंदिर पहुंचकर सुरक्षा व्यवस्था और विधि-व्यवस्था का जायजा लिया।

इसे भी पढ़ें:- रांची में स्कूल खुलते ही तीन बच्चे कोरोना संक्रमित, पेरेंट्स की बढ़ी चिंताएं
उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने किया बैद्यनाथ मंदिर का दौरा
इस दौरान उपायुक्त ने बाबा मंदिर के आसपास के क्षेत्रों में साफ-सफाई और कचड़ा उठाव को लेकर संबंधित अधिकारियों को उचित दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने मंदिर के आसपास के क्षेत्रों को थर्माकॉल और प्लास्टिक मुक्त बनाने का आग्रह सभी से किया। जिससे सही मायने में बाबा मंदिर और आसपास के क्षेत्रों को स्वच्छ और सुंदर बनाया जा सके।

Jharkhand News : बैद्यनाथ धाम और बासुकीनाथ में इस साल भी नहीं लगेगा श्रावणी मेला

सुरक्षा कर्मियों को दिए खास निर्देश
इसके अलावा उपायुक्त ने मंदिर के आसपास के क्षेत्रों में तैनात पुलिसकर्मियों और सुरक्षा बलों के जवानों से बातचीत करते हुए उनके बेहतर कार्यशैली की सराहना की। उन्होंने कहा कि बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं के साथ नम्रतापूर्वक अपना व्यवहार रखने की बात कही, ताकि जानकारी के अभाव में श्रद्धालुओं को उनके गंतव्य की ओर रवाना किया जा सके।

बाबाधाम मंदिर के आस-पास के क्षेत्रों का निरीक्षण करते हुए उपायुक्त ने प्रतिनियुक्त अधिकारियों और पुलिस बल के जवानों को कई अहम निर्देश दिए। उन्होंने पुलिसकर्मियों को पूरी सतर्कता और सावधानी के साथ अपने-अपने प्रतिनियुक्त स्थलों पर एक्टिव रहने का निर्देश दिया।

.



Source link