RJD Party Internal Politics; Tejashwi Yadav Says Don’t Worry Everything Will Be Alright | लालू के दोनों बेटों के बीच विरासत की लड़ाई, नेता प्रतिपक्ष बोले- जब हम हैं, राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद हैं, तो सब ठीक हो जाएगा, चिंता करने की जरूरत नहीं

0
0

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • RJD Party Internal Politics; Tejashwi Yadav Says Don’t Worry Everything Will Be Alright

पटना24 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

तेजस्वी यादव, नेता प्रतिपक्ष।

लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव के बगावती बोल के बाद गुरुवार को तेजस्वी यादव सामने आए। उन्होंने मीडियाकर्मियों से कहा- “सब ठीक हो जाएगा। किसी को कोई चिंता करने की जरूरत नहीं है।’ उन्होंने कहा- “जब हम हैं, राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद हैं, तो सब ठीक हो जाएगा। हम तो चिंतित ही नहीं है।’ वहीं, तेज प्रताप का बिना नाम लिए उन्होंने कहा- “सबकी अपनी-अपनी राय होती है। इसमें कोई दिक्कत नहीं है। सब ठीक हो जाएगा।’

बताया जा रहा है कि बुधवार को तेज प्रताप गुट के छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष आकाश यादव के हटाए जाने के बाद दोनों भाइयों के बीच तल्खियां बढ़ गई है।

लालू प्रसाद ने संभाली थी स्थिति

लालू प्रसाद के बड़े लाल तेज प्रताप एक बार फिर चर्चा में आ गए हैं। तेजस्वी और जगदानंद से उनके संबंधों को लेकर सियासत गर्म हो गई है। तेज प्रताप को इस बात का मलाल है कि प्रदेश अध्यक्ष उन्हें सम्मान नहीं देते। छात्र राजद के कार्यक्रम में तो उन्होंने जगदानंद सिंह को हिटलर तक कहा था। इससे पहले वह जगदा बाबू को हटाने की मांग भी कर चुके थे। उस समय भी जगदानंद की नाराजगी दिखी थी। लालू प्रसाद से मुलाकात के बाद स्थिति संभली थी।

इस बार भी लालू प्रसाद के हस्तक्षेप के बाद स्थिति नियंत्रण में दिख रही है, लेकिन तनाव कम नहीं है। सोशल मीडिया पर तरह-तरह के सवाल उठ रहे हैं। अरुण कुमार नाम के कार्यकर्ता ने सवाल उठाते हुए सोशल मीडिया पर लिखा है- “राष्ट्रीय जनता दल के शीर्ष नेतृत्व और माननीय प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह जी की कार्रवाई न्याय संगत नहीं है। कार्रवाई सिर्फ आकाश यादव पर ही नहीं तेज प्रताप यादव पर भी होनी चाहिए।’

भड़क गए हैं तेज प्रताप

इधर, बुधवार देर रात तेज प्रताप यादव ने RJD के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह पर गंभीर आरोप लगाए। चुनौती देते हुए कहा है- “अगर जगदा बाबू की हैसियत है तो मुझ पर कार्रवाई करके दिखाएं। वह पार्टी में मनमानी कर रहे हैं।’ उन्होंने बड़ा आरोप लगाते हुए यह भी कहा- “पार्टी में हमारे विरोधी हमारी हत्या भी करा सकते हैं।’

जहानाबाद में RJD प्रत्याशी को हरवा दिया था

तेज प्रताप को ठीक करने की कोशिश पहले भी पार्टी में हुई थी। उस समय भी तेज ने अपनी ताकत का अहसास कराया था। उनके मनचाहे व्यक्ति को टिकट नहीं देने पर जहानाबाद में पार्टी को हार का सामना करना पड़ा था और जेडीयू के चंद्रेश्वर चंद्रवंशी चुनाव जीत गए थे। तेज प्रताप यादव का लालू-राबड़ी फ्रंट काफी चर्चा में रहा था।

यह भी पढ़ें;

RJD प्रमुख को सबका शुभचिंतक बनना होगा

खबरें और भी हैं…

.



Source link