Ravi shastri- Rahul Dravid: न रणनीति, न जज्बा.. इंग्लैंड से हार पर शास्त्री की जय जय, द्रविड़ को क्यों कोस रहे लोग – former indian coach ravi shastri remembered after defeat aginst england raised questions on indian team batting in fitft test match

0
0


इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें टेस्ट मैच में भारत को मिली 7 विकेट से करारी हार के बाद क्रिकेट फैंस को पूर्व कोच रवि शास्त्री की याद आई है। लोग सोशल मीडिया पर गुरु राहुल द्रविड़ को खूब कोस रहे हैं। टीम इंडिया ने 2021 में जब इंग्लैंड में 2-1 की बढ़त ली था तो कप्तान विराट कोहली थे, जबकि कोच रवि शास्त्री। अब टीम की कप्तानी जसप्रीत बुमराह कर रहे थे, जबकि कोचिंग राहुल द्रविड़ के पास थी।

इससे पहले कमेंट्री के दौरान शास्त्री ने कहा कि टीम इंडिया ने खेल के चौथे दिन बल्लेबाजी में जिस तरह का रक्षात्मक रवैया दिखाया वह बहुत ही निराशाजनक था, जिसके कारण इंग्लैंड को वापसी का मौका मिल गया। इंग्लैंड के खिलाफ मैच में भारतीय टीम ने पहली पारी में 416 रन बनाकर 132 रनों की बढ़त हासिल की थी लेकिन अपनी दूसरी पारी में वह सिर्फ 245 रन पर सिमट गई जिसके बाद इंग्लैंड को 378 रनों मिला था और आखिरी दिन मेजबान तीन विकेट खोकर लक्ष्य को हासिल कर लिया।

राहुल द्रविड़ की कोचिंग पर तंज कसते हुए एक यूजर ने लिखा, ‘बीसीसीआई ने राहुल द्रविड़ को कोच बनाने के लिए रवि शास्त्री को हटाया।’ इसके साथ ही एक तस्वीर भी शेयर की गई जिसमें लिखा, ‘एक आदमी ने रिमोट खरीदने के लिए टीवी को बेच दिया।’

एक अन्य यूजर ने लिखा, ‘हम आईसीसी ट्रॉफी के लिए जरूर रवि शास्त्री को कोस सकते हैं। उनकी कोचिंग में भारतीय टीम एक भी आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीत सकी लेकिन उनके नेतृत्व में टेस्ट मैच में चौथी पारी में टीमों को आउट करने का गेंदबाजों में विश्वास था। कुछ ऐसा जो राहुल द्रविड़ के नेतृत्व में धीरे-धीरे मिट रहा है। साउथ अफ्रीका सीरीज पहले थी, और अब इंग्लैंड टेस्ट।’

एक यूजर ने लिखा, ‘भारत विदेश में 379 रन का लक्ष्य रख कर भी हार रही है। इंग्लैंड के खिलाफ भारत की रणनीति काफी शर्मनाक थी। हम कोहली और शास्त्री की जोड़ी को मिस करते हैं।’

IND vs ENG: काश! वो कैच नहीं छोड़ते हनुमा विहारी तो भारत रच देता इतिहास, अंग्रेज भी रखते याद
पांच मैचों की इस टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम 2-1 से आगे थी। पिछले साल भारतीय टीम इंग्लैंड दौरे पर यह टेस्ट सीरीज खेलने इंग्लैंड गई थी लेकिन उस दौरान सिर्फ चार मैच ही खेले जा सके थे। कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप के कारण आखिरी टेस्ट को री शेड्यूल कर दिया गया था जिसे इस दौरे पर खेला और इंग्लैंड ने इस मैच में जीत दर्ज कर सीरीज को 2-2 से बराबर कर दिया।

इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें टेस्ट मैच में भारत को मिली 7 विकेट से करारी हार के बाद पूर्व कोच रवि शास्त्री टीम की बल्लेबाजी शैली पर सवाल उठाए हैं। स्काय स्पोर्ट्स के लिए कमेंट्री के दौरान शास्त्री ने कहा कि टीम इंडिया ने खेल के चौथे दिन बल्लेबाजी में जिस तरह का रक्षात्मक रवैया दिखाया वह बहुत ही निराशाजनक था, जिसके कारण इंग्लैंड को वापसी का मौका मिल गया।

IND vs ENG Stats: इंग्लैंड की सबसे बड़ी जीत, 350 का टारगेट दे पहली बार भारत की हार
इंग्लैंड के खिलाफ मैच में भारतीय टीम ने पहली पारी में 416 रन बनाकर 132 रनों की बढ़त हासिल की थी लेकिन अपनी दूसरी पारी में वह सिर्फ 245 रन पर सिमट गई जिसके बाद इंग्लैंड को 378 रनों मिला था और आखिरी दिन मेजबान तीन विकेट खोकर लक्ष्य को हासिल कर लिया।

भारतीय टीम पर अपनी निराशा जाहिर करते हुए शास्त्री ने कहा, ‘यह बहुत ही निराशाजनक है। कम से कम पहली पारी में इंग्लैंड मुकाबले से जरूर बाहर था लेकिन भारतीय टीम ने उसे वापसी का मौका दे दिया।’

उन्होंने कहा, ‘भारतीय टीम को खेल के चौथे दिन कम से कम दो सत्र तक बल्लेबाजी करनी चाहिए थी लेकिन मुझे लगा कि वह वह काफी रक्षात्मक तरीके से खेलने लगी खास तौर से लंच ब्रेक के बाद बल्लेबाजी बहुत धीमा हो गया था और आक्रामकता नहीं दिखी।

IND vs ENG Highlights: बेयरस्टो और रूट ने चकनाचूर किया सपना, भारत की शर्मनाक हार, नहीं जीत सके सीरीज

शास्त्री के अलावा पीटरसन ने भी कप्तान जसप्रीत बुमराह की रणनीति पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं लगता है कि बुमराह ने चौथे दिन अपनी रणनीति को अच्छे मैदान पर लागू किया और मैं इसे सम्मान के साथ कह रहा हूं।’

बता दें कि पांच मैचों की इस टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम 2-1 से आगे थी। पिछले साल भारतीय टीम इंग्लैंड दौरे पर यह टेस्ट सीरीज खेलने इंग्लैंड गई थी लेकिन उस दौरान सिर्फ चार मैच ही खेले जा सके थे। कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप के कारण आखिरी टेस्ट को री शेड्यूल कर दिया गया था जिसे इस दौरे पर खेला और इंग्लैंड ने इस मैच में जीत दर्ज कर सीरीज को 2-2 से बराबर कर दिया।

.



Source link