Rana Kapoor | Yes Bank Founder Rana Kapoor Wife Bindu Kapoor Gifted Rs 40-crore Bungalow To Nine-month Old Grandson | राणा कपूर की पत्नी ने पोते को दिया 40 करोड़ का गिफ्ट, दिल्ली में थी प्रॉपर्टी

0
0


  • Hindi News
  • Business
  • Rana Kapoor | Yes Bank Founder Rana Kapoor Wife Bindu Kapoor Gifted Rs 40 crore Bungalow To Nine month Old Grandson

मुंबई7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

कपूर और उनके परिवार के सदस्यों और अन्य को लोन दिए जाने के कारण 4,300 करोड़ रुपए का फायदा हुआ था। यह लोन कई कंपनियों को दिए गए थे

  • बिंदू कपूर को यह प्रॉपर्टी उनके पिता ने दी थी
  • राणा कपूर लंबे समय से जेल में हैं

यस बैंक के प्रमोटर और घोटाले में शामिल राणा कपूर की पत्नी बिंदू कपूर ने अपने 9 महीने के पोते को 40 करोड़ रुपए की प्रॉपर्टी गिफ्ट में दिया है। यह प्रॉपर्टी दिल्ली के जोरबाग इलाके में है। पोते का नाम आशिव खन्ना है।

31 जुलाई को हुई है रजिस्टर्ड

जानकारी के मुताबिक, पोते के नाम पर यह प्रॉपर्टी 31 जुलाई 2021 को गिफ्ट डीड के रूप में रजिस्टर्ड हुई है। इसके लिए बिंदू कपूर ने 36.90 लाख रुपए का स्टैंप ड्यूटी भरा है। यह गिफ्ट डीड आशिव खन्ना की मां राधा कपूर खन्ना के जरिए बनाया गया है। फ्लैट की एरिया 369 वर्ग मीटर है। इसमें ग्राउंड फ्लोर पर 2 बीएचके का फ्लैट भी है

लिविंग एरिया और कार पार्किंग भी है

इस प्रॉपर्टी में लिविंग एरिया और कार पार्किंग भी है। ग्राउंड फ्लोर 161.5 वर्ग मीटर में है। 2004 में बिंदू कपूर को उनके पिता ने यह प्रॉपर्टी दी थी। यहां के ब्रोकर्स के मुताबिक, इस प्रॉपर्टी की कीमत 40 करोड़ रुपए के करीब है। इससे पहले इसी साल 24 जुलाई को बिंदू कपूर ने यहीं पर एक प्रॉपर्टी 43.5 करोड़ रुपए में बेच दी थी।

नजदीकी व्यक्ति को दे सकते हैं गिफ्ट डीड

कानूनी सलाहकार कहते हैं कि गिफ्ट डीड के रूप में आप अपने नजदीकी व्यक्ति को प्रॉपर्टी या कोई भी चीज दे सकते हैं। प्रॉपर्टी के मामले में इसे ट्रांसफर करना जरूरी होता है। 21 जुलाई को ही प्रिवेंशन ऑफ मनी लांड्रिंग एक्ट (PMLA) कोर्ट ने राणा कपूर की जमानत को खारिज कर दिया था। राणा कपूर को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने मार्च में गिरफ्तार किया था। उन पर यस बैंक के साथ करोड़ों रुपयों के घोटाले का आरोप है।

जमानत अर्जी खारिज हुई

कपूर ने कई बार जमानत के लिए अर्जी दी थी। उनके वकील ने कहा कि इस मामले की जांच पूरी हो चुकी है। इसलिए कपूर को जमानत मिलनी चाहिए। राणा कपूर लंबे समय से जेल में हैं पर फिलहाल वे कस्टडी में हैं। ईडी राणा कपूर के साथ उनकी पत्नी बिंदू और तीन बेटियों की भी जांच कर रहा है। यह जांच दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (DHFL) को 600 करोड़ रुपए का कर्ज दिए जाने के मामले में हो रही है।

4,300 करोड़ रुपए का फायदा कमाया

कपूर और उनके परिवार के सदस्यों और अन्य को लोन दिए जाने के कारण 4,300 करोड़ रुपए का फायदा हुआ था। यह लोन कई कंपनियों को दिए गए थे। उन पर आरोप है कि उन्होंने कुछ खास कॉर्पोरेट घरानों को लोन दिया और ये लोन बाद में NPA हो गए। यानी इनकी रिकवरी नहीं हो पाई। इस मामले में CBI भी जांच कर रही है। सितंबर 2020 में सेबी ने राणा कपूर पर डिस्क्लोजर नहीं देने के आरोप में 1 करोड़ रुपए का फाइन लगाया था। हालांकि सेबी की अपीलेट बॉडी सैट ने इस पर रोक लगा दी थी।

खबरें और भी हैं…

.



Source link