Panipat’s javelin thrower Navdeep, who has been a world champion, will show his arms in Paralympics, Prime Minister wishes, the competition will be held on September 4 | पैरालिंपिक में दिखेंगे वर्ल्ड चैंपियन रह चुके जेवलिन थ्रोअर नवदीप; PM मोदी ने दी शुभकामनाएं, 4 सितंबर को होगा मुकाबला

0
0



  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Panipat
  • Panipat’s Javelin Thrower Navdeep, Who Has Been A World Champion, Will Show His Arms In Paralympics, Prime Minister Wishes, The Competition Will Be Held On September 4

पानीपत4 घंटे पहले

एक्शन में 20 साल के एथलीट नवदीप ।

टोक्यो ओलिंपिक में गोल्ड मेडल जीतकर पानीपत के जेवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा इतिहास रच चुके हैं। अब टोक्यो पैरालिंपिक में भी पानीपत का छोरा कमाल दिखाने को तैयार है। वर्ल्ड चैंपियन रह चुके पानीपत के गांव बुआना लाखु निवासी 20 वर्षीय नवदीप पैरालिंपिक में मेडल जीतने के लिए तैयार हैं। नीरज चोपड़ा का मुकाबला शनिवार शाम साढ़े 4 बजे था और नवदीप का मुकाबला भी शनिवार को शाम साढ़े 4 बजे होगा। हालांकि इससे पहले नवदीप को फाइनल के लिए क्वालिफाई करना होगा।

पानीपत के नीरज चोपड़ा ने ओलिंपिक में एथलेटिक्स में पहली बार देश को गोल्ड मेडल दिलाया है। अपनी इस उपलब्धि से नीरज चोपड़ा अपने गांव खांडरा और पानीपत का नाम दुनिया में रोशन कर चुके हैं। अब ऐसी ही कुछ उम्मीदें नवदीप से हैं। नवदीप के पिता दलबीर सिंह ने बताया कि नवदीप जेवलिन थ्रो के F-41 कैटेगरी में भाग लेगा। क्वालिफाई करने के बाद नवदीप का फाइनल मुकाबला 4 सितंबर को होना है। इस कैटेगरी में कुल 8 खिलाड़ी अपनी दोवदारी पेश करेंगे। नवदीप के प्रतिद्वंदियों में चीन का 36 साल का खिलाड़ी प्रमुख है। बाकी 6 खिलाड़ियों से नवदीप का प्रदर्शन बेहतर रहा है।

हाइट 4.5 फीट और भाला मापता है 43.78 मीटर की दूरी
नवदीप को एक्मोंडोप्लेजिया नाम की बीमारी थी। जिस कारण बचपन से ही उसका शारीरिक विकास नहीं हो पाया और हाइट 4.5 फीट पर आकर रुक गई। अपनी हाइट को नवदीप ने कमजोरी नहीं बनने दिया। जेवलिन थ्रो की F-41 कैटेगरी में नवदीप का रिकॉर्ड 43.78 मीटर का है, जो वर्ल्ड रिकॉर्ड से केवल 50 सेंटीमीटर ही कम है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र ने मोदी दी शुभकामनाएं
टोक्यो ओलिंपिक के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाग ले रहे सभी खिलाड़ियों से फोन पर बात की थी। स्वदेश लौटने पर भी प्रधानमंत्री ने खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाया। अब पैरालिंपिक के खिलाड़ियों को भी प्रधानमंत्री ने शुभकामनाएं दी हैं। नवदीप के पिता ने बताया कि प्रधानमंत्री ने सभी खिलाड़ियों को अपना 100 प्रतिशत देने और परिणाम की चिंता नहीं करने को कहा है।

मां से बोला- नीरज की तरह ही झंडे गाड़ के आऊंगा
मां मुकेश रानी ने बताया कि गुरुवार शाम को नवदीप से बात हुई थी। तब बेटे ने कहा कि मां चिंता ना कर नीरज चोपड़ा की तरह ही टोक्यो में झंडे गाड़ के आऊंगा। मां को मुकेश ने बताया कि नीरज के गोल्ड मेडल जीतने पर उन्हें बहुत खुशी मिली। अब वह अपने बेटे को देश के लिए गोल्ड मेडल जीतते देखना चाहती हैं।

1-1 वर्ल्ड व एशियन चैंपियनशिप और 5 नेशनल गोल्ड मेडल है नाम
नवदीप अब तक वर्ल्ड व एशियन चैंपियनशिप में 1-1 और नेशनल चैंपियनशिप में 5 गोल्ड मेडल जीत चुका है। नवदीप की उपलब्धियों के कारण 2012 में उन्हें राष्ट्रपति अवॉर्ड से सम्मानित किया जा चुका है।

पिता भी रहे हैं कुश्ती के नेशनल गोल्ड मेडलिस्ट
नवदीप के पिता दलबीर सिंह पंचायत विभाग में ग्राम सचिव के पद पर तैनात हैं। वह भी कुश्ती में गोल्ड मेडलिस्ट रह चुके हैं। इसलिए नवदीप भी पहले कुश्ती ही खेला करता था, लेकिन 2010 में कमर में चोट लगने के बाद जेवलिन थ्रो शुरू किया। नवदीप की मां मुकेश रानी गृहिणी हैं और भाई मनदीप रेलवे में नौकरी करता है। मनदीप भी बॉक्सिंग में स्टेट लेवल तक खेला है।

खबरें और भी हैं…

.



Source link