corona vaccination news: Barabanki mein farji vaccination center chal raha tha: बाराबंकी में फर्जी वैक्सीनेशन सेंटर चल रहा था

0
33


हाइलाइट्स

  • शिकायत पर की गई कार्रवाई
  • जैदपुर थाना क्षेत्र का है मामला
  • क्लिनिक के डॉक्टर समेत तीन पर मुकदमा दर्ज

जितेंद्र कुमार मौर्य, बाराबंकी
उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में प्राइवेट क्लिनिक पर फर्जी सेंटर चल रहा था। फर्जी वैक्सीनेशन की सूचना पर पुलिस और स्वास्थ विभाग टीम ने गुरुवार को छापा मारा। पुलिस ने मौके से एक युवक को गिरफ्तार कर कोरोना वैक्सीन की वायल और सिरिंज बरामद की है। वहीं, वैक्सीन की डोज लेने वाले लोगों को चिह्नित कर शुक्रवार को सीएचसी पर उनका मेडिकल परीक्षण कराया गया। मामले में पुलिस ने क्लिनिक के डॉक्टर समेत तीन पर मुकदमा दर्ज किया है।

जानकारी के अनुसार, जैदपुर थाना क्षेत्र के गोछौरा गांव में एक निजी क्लिनिक आरोग्य सदन पर 125-125 रुपये में तीन दिनों से कोरोना का टीकाकरण कराया जा रहा था। शिकायत पर सीएमओ रामजी वर्मा ने एडिशनल सीएमओ राजीव सिंह के नेतृत्व में टीम गठित कर गुरुवार शाम सदर तहसील एसडीएम पंकज सिंह और कोतवाल धर्मेंद्र रघुवंशी ने संयुक्त रूप से छापेमारी की। पुलिस ने मौके से बरामद सरकारी कोविशील्ड वैक्सीन की वायल (क्षमता लगभग 10 डोज़) और सिरिंज के साथ वैक्सीन लगाने वाला बृजेन्द्र नाम के युवक को गिरफ्तार किया। जिसकी निशादेही पर संदीप को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

एक दर्जन से अधिक लोगों ने ली कोरोना की डोज
वैक्सीन की डोज लेने वाले रहीमाबाद गांव निवासी रामजी वर्मा ने बताया कि मैंने और मेरी पत्नी ने प्राइवेट क्लिनिक पर बुधवार को वैक्सीन की डोज ली थी। वहीं, रहिमाबाद के कुलदीप ने बताया कि प्राइवेट क्लिनिक पर पैसा देकर वैक्सीन की डोज ली थी। जिसकी जांच के लिए बुलाया गया है।

एडिशनल सीएमओ राजीव सिंह का कहना है कि निजी क्लिनिक पर वैक्सीनेशन की शिकायत पर तत्काल कार्रवाई की गई है। जिसमें सरकारी वैक्सीन और सिरिंज पाई गई हैं। इसमें पुलिस पूछताछ में डॉ. पद्मेश मिश्रा की डिग्री पर संचालित क्लिनिक पर बृजेन्द्र ने लखनऊ के संदीप नाम के युवक से कोरोना वैक्सीन की डोज हासिल की थी।

गंभीर धाराओं में दर्ज हुआ मुकदमा
जैदपुर कोतवाली के इंस्पेक्टर धर्मेन्द्र रघुवंशी ने बताया कि अवैध वैक्सीनेशन की शिकायत पर डॉक्टर पद्मेश मिश्रा, उसके साथी बृजेन्द्र और संदीप नाम पर चोरी का माल बरामदगी, धोखाधड़ी, मानव जीवन को नुकसान पहुंचाने वाले तरल पदार्थ और महामारी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। इसके अलावा इंडियन मेडिकल सर्विसेज की धारा 15(2) और 15 (3) के तहत भी मुकदमा दर्ज किया गया है। मामले में बृजेन्द्र और संदीप की गिरफ्तारी की गई है। वहीं, अन्य के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

Moradabad News: मुरादाबाद में युवती ने प्रेमी से की कोर्ट मैरिज, नाराज घर वालों ने तोड़े दोनों पैर
सीएचसी अधीक्षक ने दी जानकारी
सतरिख सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक सुनील जायसवाल ने बताया कि पैसे लेकर वैक्सीन की शिकायत पर तत्काल मुख्यालय सूचित कर पुलिस टीम के साथ कार्रवाई की गई है। मामले में मुकदमा दर्ज करा कर एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी के द्वारा वैक्सीन की डोज देने वाले 8 लोगों को चिह्नित किया गया है। जिन्हें शुक्रवार को सीएचसी पर परीक्षण के लिए बुलाया गया और उनके ब्लड और अन्य जांच की जा रही है। इसके साथ ही आसपास की गांवों में टीम भेजकर अन्य लोगों की जांच की जाएगी।

बाराबंकी में चल रहा था फर्जी वैक्सीनेशन सेंटर, 2 को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बाराबंकी में चल रहा था फर्जी वैक्सीनेशन सेंटर, 2 को पुलिस ने किया गिरफ्तार



Source link