Bihar News; Police lock hotel rooms running sex racket, all those caught including girls were sent to jail | होटल के जिन कमरों में चलता था देह व्यापार, उन्हें पुलिस ने सील किया; गांधी मैदान थाना के पुलिस की भूमिका की होगी जांच

0
0

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Bihar News; Police Lock Hotel Rooms Running Sex Racket, All Those Caught Including Girls Were Sent To Jail

पटना30 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पुलिस की गिरफ्त में आरोपी।

एग्जीविशन रोड के होटल दयाल पैलेस में चल रहे सेक्स रैकेट और वहां आने वाले कस्टमर्स को शराब पड़ोसने का मामला गंभीर बन गया है। इस मामले में गांधी मैदान थाना में तैनात कुछ पुलिस वालों के उपर भी अवैध वसूली के आरोप लगे हैं। होटल में चल रहे अनैतिक काम के बारे में थाने की पुलिस को पहले से थी। यह गोरखधंधा लंबे वक्त से चलता आ रहा है। सवालों के घेरे में उस इलाके का चक्कर लगाने वाले क्विक मोबाइल के जवान और उनका साथ देने वाले पुलिस पदाधिकारी। इस बात की जानकारी पटना के सिटी एसपी सेंट्रल अम्बरीश राहुल को भी हुई है। शुक्रवार को भास्कर के सवाल सिटी एसपी सेंट्रल ने कहा कि जनरल तौर पर थाना की पुलिस पर आरोप लगे हैं। अवैध वसूली की बात सामने आई है। इनकी भूमिका की जांच होगी।

जेल भेजे गए सभी, लॉक किए गए होटल के कमरे

इस मामले में गांधी मैदान के थानेदार रंजीत वत्स ने अपने बयान पर FIR नंबर 399/21 को दर्ज किया है। महिला सब इंस्पेक्टर अर्चना कुमारी सिन्हा को सेक्स रैकेट के इस केस का इंवेस्टिगेशन ऑफिसर (IO) बनाया गया है। शुक्रवार को गांधी मैदान की पुलिस ने इस मामले में पकड़ी गई 7 लड़कियों और होटल मालिक पंकज, स्टाफ व कस्टमर्स समेत 9 लोगों को जेल भेज दिया है। इन सभी के उपर 3/4/5 अनैतिक देह व्यापार अधिनियम – 1956 की धारा के तहत कार्रवाई की गई है।

शराब के नशे में मिले काउंटर स्टाफ ने बताया था दलालों का नाम

FIR में गांधी मैदान के थानेदार ने जो बातें लिखी है, उसके अनुसार होटल दयाल में वो अपनी टीम के साथ छापेमारी करने 18 अगस्त की रात 10 बजकर 45 मिनट पर पहुंचे थे। जो देर रात 2:30 बजे तक चली थी। इस कार्रवाई में कोतवाली और महिला थाना की टीम भी शामिल थी। टीम सबसे पहले होटल के रिशेप्सन पर पहुंची। काउंटर पर मौजूद स्टाफ कृष्ण मोहन शराब के नशे में था। विश्वास में लेते हुए पुलिस ने उससे पूछताछ की और एक बड़ा राज उगला। शशि, अभिषेक, चंदन, रजनीश कुमार, आदित्य सिंह उर्फ विक्की और मीरा कुमारी दलाल हैं। इन्हीं दलालों के जरिए होटल मालिक पंकज सेक्स रैकेट को चला रहा था। इनके जरिए ही दूसरे शहरों से लड़कियों को बुलाया जाता था।

नालंदा, बंगाल और यूपी के मुगलसराय की मिली लड़कियां

उस रात पुलिस टीम ने सबसे पहले होटल दयाल के कमरा नंबर 107 को खंगाला था। इस कमरे में नालंदा जिले के नवाजीबीघा की रहने वाली एक लड़की के साथ दरभंगा के विरौल का रहने वाला अंशू कुमार गारा आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ा गया था। इसके बाद कमरा नंबर 108 से पटना के ही पटेल नगर के रहने वाले मुकेश कुमार को वेस्ट बंगाल के 24 परगना की रहने वाली लड़की के साथ पकड़ा गया। मुकेश ने उस वक्त शराब भी पी रखी थी। कमरे से 375एमएल शराब की बोतल भी पुलिस ने बरामद की थी। इसके बाद कमरा नंबर 110 की तलाशी हुई। इस कमरे से उत्तर प्रदेश से आई एक महिला मिली। काफी सारे आपत्तिजनक सामान भी कमरे से मिले।

फिर कमरा नंबर 103 से बंगाल के नादिया से आई लड़की के साथ दरभंगा के बिरौल का रहने वाले सन्नी कुमार को पकड़ा गया। सन्नी यहां अपने तीन दोस्तों के साथ आया था। इसके लिए उसने UPI के जरिए 18 हजार रुपए पे किया था। इसके बाद पुलिस ने कमरा नंबर 101 से दरभंगा के सुपौल बाजार के धीरज कुमार को बंगाल के वर्धमान से आई लड़की के साथ पकड़ा गया था। FIR के अनुसार पकडे़ जाने के बाद किसी ने भी एक-दूसरे के बारे में कोई सही जानकारी नहीं दे पाए थे। पूछताछ में लड़कियों ने बताया कि हर 3 घंटे पर उनके कमरे को बदल दिया था। उन्हें दूसरे कस्टमर्स के पास भेज दिया जाता था। होटल मालिक पंकज शराब कहां से लाता था? इस बारे में भी उसने कुछ नहीं बताया। पकडे़ गए रजनीश कुमार और उसके साथ रहने वाली एक लड़की मिल कर ही इस रैकेट के लिए होटल में लड़कियों को पहुंचाया करते थे।

खबरें और भी हैं…

.



Source link