Bihar News; CBSE 12th result 2021 today at 2 pm | कोरोना काल में बिहार के 1.5 लाख स्टूडेंट्स के भविष्य का होगा फैसला; रिजल्ट संतोषजनक नहीं होने पर एसोसिएशन लड़ेगा लड़ाई

0
0

पटना3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • स्टूडेंट्स के मोबाइल पर आएगा बोर्ड से मैसेज
  • स्कूलों ने बोर्ड को भेजा है मोबाइल नंबर

सेंट्रल बोर्ड आफ सेकेंड्री एजुकेशन (CBSE) शुक्रवार को 12वीं का रिजल्ट जारी कर रहा है। इसमें बिहार के लगभग 1.5 लाख बच्चों के भविष्य का फैसला होगा। CBSE राष्ट्रीय औसत अंकों के आधार पर रिजल्ट जारी कर रहा है। इस कारण से स्टूडेंट्स के साथ-साथ स्कूल भी परेशान हैं। हालांकि जिन बच्चों का रिजल्ट अच्छा नहीं होगा वह उससे संतुष्ट नहीं होंगे, उनके लिए सितंबर में एग्जाम का मौका होगा। प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रेन चवेल्फेसर एसोसिएशन ऐसे बच्चों के लिए लड़ाई लड़ने को तैयार है, जिनका रिजल्ट संतोषजनक नहीं होगा।

दोपहर 2 बजे रिजल्ट की घोषणा

CBSE ने दोपहर 2 बजे रिज्ल्ट घोषित करने की सूचना दे दी है। इससे छात्रों के साथ स्कूलों में तैयारी होने लगी है। छात्रों की धड़कन भी बढ़ गई है। रिजल्ट को लेकर हर कोई परेशान है, क्योंकि कोरोना काल में पढाई नहीं हो पाई है। ऐसे में रिजल्ट को लेकर हर तरफ से परेशानी है। प्राइवेट स्कूल्स एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष शमाएल अहमद ने कहा है कि शुक्रवार दोपहर तक रिजल्ट जारी होगा। इस बार कोरोना काल में बड़ी चुनौतियां है। बच्चों से लेकर स्कूल तक के सामने चुनौती रही है। इन चुनौतियों के बीच रिजल्ट आ रहा है। ऐसे में अगर बच्चों का रिजल्ट संतोषजनक नहीं है वह इससे संतुष्ट नहीं हैं तो वह सितंबर में एग्जाम दे सकते हैं। CBSE ने सितंबर में एग्जाम की व्यवस्था की है। उनका कहना है कि एसोसिएशन पूरी तरह से बच्चों के साथ लड़ाई लड़ने को तैयार है।

1.5 लाख बच्चों का तय होगा भविष्य

प्राइवेट स्कूल्स एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष शमायल अहमद के मुताबिक बिहार में लगभग 1.5 लाख स्टूडेंट्स इंटरमीडिएट में हैं। बिहार में लगभग 600 स्कूल CBSE से संबद्ध हैं। पटना में यह संख्या लगभग 80 है। इन स्कूलों में अधिकतर में इंटरमीडिएट की पढ़ाई होती है। 12 वीं में बिहार में कुल 1.5 लाख छात्र हैं जिनके भविष्य पर फैसला आज होना है। प्राइवेट स्कूल्स एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष शमायल अहमद का कहना है कि CBS द्वारा 12वीं के रिजल्ट के लिए तैयार मानक स्टूडेंट्स के भविष्य पर भारी पड़ सकता है। हालांकि उनका कहना है कि 12 वीं से अधिक 10 के स्टूडेंटस प्रभावित हो रहे हैं। ऐसे विद्यालयों के बच्चों पर अधिक असर पड़ेगा जो पहली बार 12वीं की परीक्षा में शामिल हो रहे हैं। ऐसे विद्यालयों में बच्चों को राष्ट्रीय औसत अंकों के आधार पर मूल्यांकन करना है।

स्टूडेंट्स केे मोबाइल पर आएगा मैसेज

DAV राजवंशी नगर की प्रिंसपल का कहना है कि इस बार रैंक नहीं जारी होगा। इस कारण से बच्चे स्कूल में नहीं में आएंगे। स्टूडेंट्स का मोबाइल नंबर बोर्ड को दिया गया है। बच्चों का रोल नंबर जनरेट कराकर बोर्ड को दिया गया है। बच्चाें के मोबाइल पर सीधा बोर्ड मैसेज आएगा। रिजल्ट को लेकर स्कूलों में तैयारी चल रही है। टीचर्स का कहना है कि स्कूलों में तैयारी है, बच्चे तो नहीं आएंगे। लेकिन सभी बच्चों का मोबाइल नंबर है इस कारण से बेहतर प्रदर्शन करने वाले बच्चों को फोन किया जाएगा उन्हें बधाई दी जाएगी। पटना के सभी स्कूलों में ऐसी ही तैयारी चल रही है। राज्य में 600 से ज्यादा स्कूलों को 12वीं से मान्यता प्राप्त है।

खबरें और भी हैं…

.



Source link