Bihar Monsoon Audit Report; 19% more Rainfall than normal in 73 days; Bihar Weather Latest News | 73 दिन में सामान्य से 19% अधिक हुई बारिश, अलग दिखा ट्रेंड, लगातार नहीं हुई बरसात, अभी मानसून के 39 दिन बाकी

0
0

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar Monsoon Audit Report; 19% More Rainfall Than Normal In 73 Days; Bihar Weather Latest News

पटना18 मिनट पहले

मानसून को 73 दिन हो गए हैं। आधा से अधिक समय बीत चुका है। अब महज 39 दिन ही शेष है। ऐसे में जब मानसून के पूरे रिपोर्ट कार्ड पर नजर डालें तो पिछले वर्षों से काफी बदलाव नजर आया है। बारिश का पूरा ट्रेंड ही इस बार बदला रहा। लगातार के बजाए रुक रुक कर बारिश हुई और इसके बाद 1 जून से 12 अगस्त तक 73 दिन में 741.2 MM बारिश हुई है, जो सामान्य से 19 फीसदी अधिक है। मानसून के बाकी बचे 39 दिनों में भी बारिश का ट्रेंड यही रहा तो भी सामान्य से अधिक बारिश होने का पूर्वानुमान है, लेकिन ट्रेंड बदला और लगातार बारिश हुई तो यह नई आफत होगी।

एक नजर में पूरा रिपोर्ट

  • 1 जून से 30 सितंबर तक होता है मानसून
  • बिहार में अबतक 741.2 एमएम बारिश हुई
  • 12 अगस्त तक 741.2 MM बारिश हो चुकी है
  • बिहार में 103.1 MM अधिक बारिश हुई जो 19% अधिक
  • बिहार में सामान्य बारिश 621.3
  • पटना में सामान्य से 5 % अधिक बारिश हुई
  • बिहार में सबसे अधिक बारिश पश्चिम चंपारण में 1465.2 MM हुई, सामान्य 794.1MM है
  • बिहार में सबसे कम बारिश पूर्णिया में 569.4 MM हुई, सामान्य 919 MM है

एक दिन पहले आया मानसून, उम्मीद थी टूटेगा रिकॉर्ड

बिहार में इस बार मानसून 13 जून के बजाए एक दिन पहले 12 जून को आ गया है। मानसून के समय से पहले आने के कारण मौसम विभाग ने इस बार सामान्य से अधिक बारिश का अलर्ट किया था। मौसम विभाग की भविष्यवाणी थी कि बारिश का रिकॉर्ड टूटेगा। कुछ मायने में रिकॉर्ड टूटा भी है लेकिन जिस तरह से उम्मीद थी लगातार बारिश की ऐसा नहीं हुआ। बारिश का ट्रेंड बदला रहा, जिससे रुक रुक कर बारिश हुई। लेकिन फिर भी सामान्य से अधिक का आंकड़ा पार हो गया।

मानसून सत्र में उत्तरी भाग में बारिश अधिक दर्ज की गई। पूरे मानसून सत्र में बिहार में 990 MM बारिश होनी चाहिए जबकि 12 अगस्त तक ही 741.2 MM बारिश हो गई है। मौसम विभाग के एक्सपर्ट का कहना है कि इस बार जून की अपेक्षा जुलाई में बारिश अनुमान से कम हुई नहीं तो अब तक पूरे सत्र के सामान्य बारिश के बराबर बरसात हो जाती। हालांकि मौसम विभाग का कहना है कि एक जून से 30 सितंबर तक मानसून का सत्र माना जाता है और अभी 39 दिन बाकी है। मानसून फिर एक्टिव हुआ है जिससे अनुमान है कि इस 39 दिन में रिकॉर्ड टूटेगा।

अब तक उत्तर बिहार में अधिक हुई बारिश

जून में उत्तर बिहार में 25 दिनों तक मानसून सक्रिय रहा जबकि दक्षिण बिहार में मात्र 17 दिन ही मानसून की सक्रियता देखी गई। जुलाई में उत्तर बिहार में 15 दिन और दक्षिण बिहार में मात्र 7 दिन मानसून सक्रिय रहा। अगस्त में उत्तर बिहार में 9 दिन जबकि दक्षिण बिहार में महज 7 दिनों तक मानसून की सक्रियता देखी गई है। आने वाले 39 दिनों में बारिश की संभावना है। वर्ष 2020 में मानसून सत्र के आाखिरी चरण में सामान्य से अधिक बारिश हुई।

इस आधार पर अनुमान है कि इस बार भी सामान्य से अधिक बारिश होगी। इस मानसून सत्र में पहले की अपेक्षा आने वाले 39 दिनों में वज्रपात और तेज हवा के साथ आकाशीय बिजली का भी खतरा अधिक होगा। मौसम विभाग के मुताबिक मानसून इस बार सक्रिय है, उम्मीद है कि आने वाले दिनों में भी अधिक समय तक बारिश होगी।

15 अगस्त तक बिहार में ब्लू अलर्ट

बिहार में 15 अगस्त तक मौसम विभाग ने ब्लू अलर्ट जारी किया है। 16 अगस्त को भी 24 से अधिक जिलों में ब्लू अलर्ट है। मौसम विभाग के मुताबिक 15 अगस्त तक उत्तर बिहार के पश्विमी चंपारण, सीवान, सारण, पूर्वी चंपारण, गोपालगंज, सीतामढ़ी, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, वैशाली, शिवहर, समस्तीपुर, सुपौल, अररिया, किशनगंज, मधेपुरा, सहरसा, पूर्णिया, कटिहार के साथ दक्षिण बिहार के बक्सर, भोजपुर, रोहतास, भभुआ, औरंगाबाद, अरवल, पटना, गया, नालंदा, शेखपुरा, नवादा, बेगूसराय, लखीसराय, जहानाबाद, भागलपुर, बांका, जमुई, मुंगेर, खगड़िया में 12 अगस्त को अधिक स्थानों पर बारिश होगी।

जबकि, 16 अगस्त तक कई स्थानों पर बारिश को लेकर अलर्ट किया गया है। मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले 39 दिनों में ऐसे ही मानसून के सक्रिय होने का अनुमान है। इस दौरान सामान्य से अधिक बारिश होगी। अगर जून के शुरुआती मानसून के दिनाें में बारिश हुई तो यह बारिश आफत वाली होगी जो बाढ़ जलजमाव के साथ फसलों के लिए भारी पड़ेगी।

खबरें और भी हैं…

.



Source link