5 करोड़ टर्नओवर पर 4 अंक का एचएसएन कोड | 4 digit HSN code on 5 crore turnover

0
0

मुजफ्फरपुरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

जीएसटी रिटर्न में बदलाव किए गए हैं। अब 5 करोड़ रुपए से कम टर्नओवर वाले करदाताओं काे जीएसटी रिटर्न में 4 अंकों का एचएसएन कोड लिखना अनिवार्य हाेगा।

जीएसटी रिटर्न में बदलाव किए गए हैं। अब 5 करोड़ रुपए से कम टर्नओवर वाले करदाताओं काे जीएसटी रिटर्न में 4 अंकों का एचएसएन कोड लिखना अनिवार्य हाेगा। यह व्यवस्था एक नवंबर से लागू होगी। इससे पहले 2 अंकों का एचएसएन कोड डालना हाेता था। इससे पहले 5 करोड़ से ज्यादा के टर्नओवर वाले करदाताओं के लिए 1 अप्रैल से 4 अंकों का कोड और उसके बाद 1 अगस्त से 6 अंकों का कोड डालना अनिवार्य किया गया। 1 अप्रैल से 5 करोड़ से कम टर्नओवर वालों के लिए 2 अंकों का एचएसएन कोड अनिवार्य किया गया था।

कोड अनिवार्य करने की यह प्रक्रिया सरकार की ओर 4 फेज में की जाने वाली है। इनमें से पहला और दूसरा फेज लागू हो चुका है। तीसरा और चौथा फेज आने वाले समय में लागू हाेगा। इसका उद्देश्य 1 टू 1 यानी एक-एक स्टॉक की पूरी जानकारी प्राप्त करनी है। ऐसा हाेने से करदाताओं को काफी सावधानी से अपने रिटर्न में बेचे गए सामान का कोड डालना होगा। गलती होने पर सर्वे के दौरान इसे समझाना मुश्किल हो सकता है।

कम टर्नओवर वाले काे भी पूरा रिकॉर्ड रखना हाेगा
टैक्सेशन वार एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रदीप वर्मा ने कहा, एचएसएन 8 अंकों का कोड होता है। इसमें पहले 2 अंकों में उत्पाद की मोटी-मोटी कैटगरी चिह्नित होती हैं। अगले 2 अंक में उत्पाद क्या है, इसकी जानकारी होती है। इसके बाद 4 अंक तक उत्पाद से जुड़ी अन्य जानकारी और उसका वर्गीकरण किया जाता है। यह कोड विभाग की ओर से व्यापारी के पास मौजूद स्टॉक की जानकारी रखने के लिए होता है। इस बदलाव से कम टर्नओवर वाले व्यवसायियाें काे भी पूरा सही से रिकार्ड रखना हाेगा।

खबरें और भी हैं…

.



Source link