विराट-सूर्या की पार्टनरशिप के बाद गेंदबाजों ने किया नीदरलैंड का हौसला पस्त | T20 World Cup India Vs Netherlands; Virat Kohli, Suryakumar Yadav Partnership | Cricket News

0
0


  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • T20 World Cup India Vs Netherlands; Virat Kohli, Suryakumar Yadav Partnership | Cricket News

सिडनी9 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

टीम इंडिया ने टी-20 वर्ल्ड कप में लगातार दूसरा मुकाबला जीत लिया है। भारत ने गुरुवार को सिडनी में खेले गए मैच में नीदरलैंड को 56 रन से हराया। अब भारतीय टीम 4 पॉइंट्स के साथ ग्रुप-2 में पहले स्थान पर पहुंच गई है।

इस मैच में भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही थी और पावर-प्ले में सिर्फ 38 रन बने थे। इसके बाद कुल चार फैक्टर ऐसे रहे जिनकी बदौलत हमने आसान जीत हासिल कर ली। चलिए सभी कारणों को एक-एक कर जानते हैं।

4. नीदरलैंड की अनुभवहीनता
इस वर्ल्ड कप में भारतीय बैटिंग लाइन अप को टूर्नामेंट में सबसे दमदार कहा जा रहा है। इसके बावजूद भारतीय बल्लेबाज शुरुआती 10 ओवर तक खुल कर नहीं खेल पाए। आधी पारी समाप्त होने के बाद टीम इंडिया का स्कोर 67/1 था।

बड़े मैच खेलने की नीदरलैंड की अनुभहीनता टीम पर भारी पड़ गई। इससे पहले नीदरलैंड ने टीम इंडिया के खिलाफ कोई टी-20 मैच नहीं खेला था। टेस्ट खेलने वाले 12 देशों के खिलाफ नीदरलैंड ने अब तक सिर्फ 36 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले थे। इनमें से 21 मुकाबले आयरलैंड, अफगानिस्तान और जिम्बाब्वे जैसी हल्की टीमों के खिलाफ हैं।

भारत ने पूरे 20 ओवर में सिर्फ दो विकेट गंवाए और इस वजह से आखिरी ओवर्स में टीम एक्सीलरेट करने में कामयाबी हासिल की। आखिरी 10 ओवर में भारत ने करीब 11 के रनरेट से स्कोरिंग की।

3. लगातार दो बेहतरीन पार्टनरशिप
भारतीय ओपनर केएल राहुल लगातार दूसरे मैच में फ्लॉप रहे और 12 गेंद पर 9 रन बनाकर आउट हुए। लेकिन, इसके बाद भारत की ओर से लगातार दो अच्छी पार्टनरशिप हूई। कप्तान रोहित शर्मा और विराट कोहली ने दूसके विकेट के लिए 56 गेंदों पर 73 रन जोड़े। इस पार्टनरशिप ने बेस तैयार किया जिसका फायदा विराट और सूर्यकुमार यादव की जोड़ी ने उठाया। इन दोनों ने 48 गेंद पर 95 रन की पार्टनरशिप कर दी।

2. कोहली का संयम और सूर्या का तूफान
12वें ओवर की आखिरी गेंद पर कप्तान रोहित शर्मा आउट हुए। स्कोर दो विकेट पर महज 84 रन थे। पिच धीमी थी और स्ट्रोक प्ले आसान नहीं था। अगर बल्लेबाज पैनिक करते तो मुमकिन था कि यहां से स्थिति और खराब हो जाती। लेकिन, यहां से विराट के संयम और सूर्या के तूफान ने भारत का काम आसान कर दिया। विराट ने सुनिश्चित किया कि एक छोर से विकेट न गिरे। वहीं, सूर्या ने टीम के रन रेट को बढ़ाने का काम किया। विराट ने इस इनिंग्स में 140 के स्ट्राइक रेट बैटिंग की तो सूर्या ने 204 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए।

1. भुवी ने किया कमाल का ओपनिंग स्पेल
भारत ने 179 रन का स्कोर जरूर बनाया लेकिन टी-20 क्रिकेट में आजकल ऐसा टोटल एवरेज ही माना जाता है। ऐसे में जरूरी था कि भारतीय गेंदबाज नीदरलैंड को अच्छी शुरुआत न करने दे। यह जिम्मेदारी संभाली स्विंग गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने। उन्होंने अपने पहले दो ओवर मेडन डाले और एक विकेट भी झटका। इसका असर यह हुआ कि डच बल्लेबाज पैनिक कर गए और शॉट खेलने के चक्कर में आगे एक के बाद एक विकेट गंवाते चले गए।

खबरें और भी हैं…

.



Source link