महागठबंधन से बुलावे की बात पर बोले पूर्व मंत्री सुरेश शर्मा, कहा- हम लोभी नहीं हैं | Former minister Suresh Sharma said on the matter of calling from the Grand Alliance, said- we are not greedy

0
0

मुजफ्फरपुर33 मिनट पहले

पूर्व मंत्री ने किया पलटवार।

भाजपा ने हमें सबकुछ दिया है। सन 1980 से हम भाजपा से जुड़े हैं। हम कोई लोभी थोड़े हैं की दल बदल लें। उक्त बातें भाजपा के पूर्व मंत्री सुरेश शर्मा ने कहा। बता दें कि जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने मुजफ्फरपुर में मंच से ऐलान किया था की उन्होंने सुरेश शर्मा को न्योता दिया है। कहा है की अब वहां कुछ नहीं मिलने वाला है। छोड़कर चले आइए। श्री कृष्ण बाबू की जयंती में भी उन्हें बुलावा भेजा था। लेकिन, वे नहीं आएं हैं। इसी बयान के बाद सुरेश शर्मा ने टिप्पणी की। कहा की कोई ऐसा पद नहीं है, जो भाजपा में उन्हें नहीं मिला। मेरे राजनीति करियर की शुरुआत भाजपा से हुई थी। आज 42 वर्ष हो गए। जिसे जो बोलना है बोले। हम कहीं नहीं जाने वाले हैं।

दो बार हारने के बावजूद दिया टिकट

पूर्व मंत्री ने कहा की हम चार बार चुनाव लड़े। पहली बार करीब 62 हजार वोट मिले। दूसरी बार फिर भाजपा ने टिकट दिया। लेकिन, उस बार हमारे ही समाज के लोग खड़े हो गए थे। जिससे वोट बंट गया था। फिर भी 50 हजार वोट मिले थे। तीसरी बार जब हर कोई उम्मीद कर रहा था की टिकट नहीं मिलेगा। तो उस बार भी भाजपा ने मुझे टिकट दिया। और इस बार भारी मतों से जीत हुई। चौथी बार पूरे देश भर में सबसे अधिक वोट लाने के मामले में मैं दूसरे नंबर पर रहा। बिहार में नंबर एक पर था। भाजपा ने हमारे ऊपर इतना भरोसा किया तो कैसे हम उस भरोसे को तोड़ दें।

एमिनेंट पर्सनैलिटी ने मेरा नाम

पूर्व मंत्री ने कहा की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा का जो एमिनेंट पर्सनैलिटी का लिस्ट बना है। उसमे मेरा नाम चयन हुआ है। आज तक भाजपा मुझे सम्मान दे रही है। हमने कभी टिकट के लिए आगे पीछे नहीं किया। भाजपा ने खुद हमको टिकट दिया। शायद ही कोई पद हो जो मुझे नहीं मिला है। फिर दल बदलने की बात कहां से उठती है। उन्होंने कहा की PM मोदी के नेतृत्व में आज भारत विकास कर रहा है। भाजपा आज विश्व स्तर की पार्टी है। हमने जो सपना विश्व गुरु बनने का देखा है। वह PM मोदी के नेतृत्व में 2047 में अवश्य पूरा होगा।

खबरें और भी हैं…

.



Source link